What is Data Model in DBMS Hindi? | Data Model क्या है?

Hello friends!! Welcome to Equicklearning-Learn Anywhere में आपका बहुत-बहुत स्वागत है । मैं हु Anshu Singh, और आज के इस article में हम आपको बताने वाले है What is Data Model in DBMS in Hindi. आज के इस post में हम विस्तार से ये जानेंगे कि Database Management System(DBMS) मेंं Data Model क्या है? तो आइये विस्तार से जानते इसके बारे में है ।

Data model यह बताता है कि data एक दूसरे से किस तरह जुड़े रहते है तथा उनके मध्य relationship कैसी है। अर्थात Database model यह परिभाषित करता है कि data को database में किस प्रकार organize किया गया है। Data Model यह बताता है कि डाटा को database में किस तरीके से रखा गया है। Data Model यह भी define करता है कि किस प्रकार डेटाबेस का logical structure बनाया गया है। data model डेटा को organize तथा store करता है। यह बाहर से जैसा दिखता है उसके अंदर arrangements कुछ अलग रहते हैं ।

Software engineering के तहत Data Modeling एक ऐसा process है, जिसमे डाटा स्टोरेज का Logical model अर्थात एक Diagram तैयार किया जाता है, ताकि logical model के अनुसार डाटा को Database में store किया जा सके। Data Model को आप एक guide की तरह मान सकते हैं, जिसका उपयोग Data Analyst डेटाबेस का डिज़ाइन तैयार करने तथा उसके implementation में करते हैं।

Data Model क्या है?

Data Model database coding प्रक्रिया का सबसे पहला और महत्वपूर्ण step है, इसमें database से जुड़े हर पहलू की व्याख्या की जाती है, जैसे की डेटाबेस में डाटा किस प्रकार store होगा | Application या system किस डाटा का उपयोग करेंगे, अलग-अलग प्रकार का डाटा आपस में कैसे Connect होगा तथा डाटा की processing किस प्रकार होगी ।

Data Modeling के द्वारा database के जटिल design को आसान diagram के रूप में समझा जा सकता है, और पता लगाया जा सकता है की implementation के बाद final system किस प्रकार का होगा और कैसे काम करेगा।

What is Data Model in DBMS Hindi? | Data Model क्या है?

Data Model में logical design तथा physical design दो भाग होते हैं। हम कह सकते हैं कि models design पर आधारित होते हैं। हर database model कुछ rule तथा standard को follow करते हैं।
आईये इसे उदाहरण के तहत अच्छे से समझते है-

1) जिस प्रकार engineer मकान को बनाने से पहले उसका model तैयार करते है उसी प्रकार database designer|Databse Design को improve करने के लिए data model तैयार करते हैं। Data Model का मुख्य उद्देश्य concept को communicate और specify करने के लिए किया जाता है।

2) जैसे- अगर हम किसी hotel or restaurant में खाने जाते हैं तो सबसे पहले menu देखते हैं । दोस्तों menu भी एक प्रकार का database ही है । उसमें सबका अलग अलग से नाम लिखा हुआ रहता है । जैसे अगर हमें breakfast करना है तो उसके लिए अलग से लिखा रहता है, lunch करना है तो उसका detail अलग से रहता है, डिनर(dinner) करना है तो उसका detail अलग से रहता है, चाइनीस(Chinese) खाना है, तो उसका detail अलग रहता है, तथा veg का अलग से रहता है और non veg का अलग रहता है ।

दोस्तों हमें देख कर एक बार के लिए ऐसा लगता है कि अंदर भी कुछ इस तरीके से ही खाना बनता होगा । Breakfast अलग जगह बनता होगा | lunch तथा dinner अलग-अलग जगह बनता होगा | लेकिन friends वास्तव में ऐसा कुछ नहीं होता है | जैसे हम lunch और dinner दोनों में चावल खा सकता है । एक ही जगह चावल बनाया जा सकता है. बस चावल के नाम और चावल को बनाने का तरीका अलग होता है। एक ही इंसान वही चावल को लेकर access करता है यानी कि चावल को बनाता है ।

इसी प्रकार Database Model होता है. हमें बाहर से जैस दिखता है अंदर उससे अलग रहता है। जैसे एक file को देख कर तो नहीं बता सकते कि उस file के अंदर data किस प्रकार से store किया गया है | Database Model हमें यह बताते हैं कि वह file के अंदर data किस तरीके से रखा गया है.

Read all These Content

Advantages of Data Model in Hindi

Data Model के निम्नलिखित लाभ है.

1) Increased Effectiveness

Data Model database की effectiveness अर्थात प्रभावशीलता को बढ़ा देता है, क्योंकि इसमें data बहुत ही वास्तविक, विश्वसनीय तथा extensible होता है ।

2) Reduced Costs

हम data models के द्वारा बहुत ही कम मूल्य में डेटाबेस applications का निर्माण कर सकते है | Data Model के अनुसार कार्य करने पर development से पूर्व ही कमियों का पता लगाया जाता है, जिससे development cost काफी कम हो जाती है। Data Model के लिए हमें project budget का केवल 10 प्रतिशत ही खर्च करना होता है. जिससे हम 70 प्रतिशत बजट की बचत होती है |

3) Simplicity

Data Models को इस प्रकार बनाया जाता है कि जिससे database की access करने में कोई दिक्कत ना हो, इसका interface बहुत ही simple होता है जिससे वह ज्यादातर इसे आसानी से प्रयोग कर पाते है ।

4) Minimum Redundancy

Redundancy का अर्थ है, data का duplication अर्थात् एक ही प्रकार का data दो जगहों पर उपस्थित होना | Duplicate data का होना बहुत ही हानिकारक होता है वह database में अनावश्यक रूप से store रहता है | Data Models जो है वह redundancy को बहुत ही कम कर देते है |

5) Data Integrity

Data Model बिना owner की अनुमति के किसी भी user को database access नहीं करने देते है | कोई भी user database को तभी access कर सकता है जब वह अपनी integrity को साबित कर सकता है |

6) Data Independence

Data Model में कोई भी data database से independent होता है | अगर किसी data में कोई बदलाव कर भी दिया जाए तो database program में उसका कोई फर्क नहीं पड़ता है |

7) Faster Performance

अगर Data Model अच्छा है तो database की performance बहुत ही तेज हो जाती है तथा data models के अनुसार ही database का निर्माण किया जाता है | बेहतर Database Modeling के होने पर database की कार्यक्षमता बढ़ जाती है।

8) Reduced Errors

DBMS में दो प्रकार के errors होते है- 1) डेटाबेस application error और 2) data error.

Data Modeling इन दोनों errors को बहुत ही कम कर देता है तथा यह data की quality को बेहतर करता है | इसके द्वारा database development से पूर्व डाटा स्टोरेज व्यवस्था की योजना बनाई जा सकती है, तथा storage design को समझा जा सकता है। क्योंकि इसमें योजना अनुसार कार्य किया जाता है, जिस कारण database development में error का chance कम हो जाता है।

9) Reduced Risk

Data Model के द्वारा हम database के risks को कम कर सकते है | Data Model डेटाबेस की complexity को estimate करता है तथा database risks की पूरी list को analyze करता है | Data Modeling के द्वारा डाटाबेस की complexity तथा डाटा processing का अंदाजा पहले से ही लगाया जा सकता है, अर्थात project में आगे बढ़ने या development की जटिलता को समझने के लिए developer को पूरा समय मिल जाता है, जो की Risk को काफी कम कर देता है।

Final Word

Friends आज आपने इस post में पढा कि What is Data Model in DBMS Hindi तो दोस्तो मुझे उम्मिद है कि इस post को पढने के बाद आपके सारे सवालो के जवाब मिल गयेे होगे । और आप ये अच्छे सेे समझ गये होंगे कि डेटा माडल क्या है?

हमारी ये पुरी कोशिश रहती है कि इस post को पढने के बाद आपके सारे doubts clear हो गये होंगे ।

फिर भी अगर आपकि कोई query या suggestion है तो हमे comment box में जरुर बताये । साथ ही आप हमसे social media के through भी जुड सकते है ।

Friends मुझे ये पुरी उम्मिद है कि आपको ये post जरुर पसंद आयी होगी । अगर पसंद आयी है तो इसे अपने दोस्तो के साथ share करना ना भुले । ताकि उन्हे भी ये जानकारी मिले । तथा इसे subscribe जरुर कर ले ताकि आप तक हमारे latest notifications मिलती रहे ।

STAY HEALTHY, BE POSITIVE

EquickLearninghttps://www.equicklearning.com
I’m Anuj Dwivedi & I’m Studying Computer Science & Engineering Course. My age of 20 years. I belong to district Pratapgarh, Uttar Pradesh in India. I’m Share Basic and Professional Knowledge of Computer Science & Technology Related information. People and Student who are a beginner in Computer Technology they can follow my website Step by Step I always help him.

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

Get in Touch

381FansLike
43FollowersFollow
52SubscribersSubscribe

Latest Posts

x